106 National Parks in India: भारत के सभी राष्ट्रीय पार्क के बारे में जाने ?

National Parks in India : भारत विविध परिदृश्यों और समृद्ध जैव विविधता की भूमि, 106 राष्ट्रीय उद्यानों की संख्या अपने आप में बहुत बढ़ी बात है। राष्ट्रीय उद्यान वन्य जीवन, पौधों की प्रजातियों और उनके आवासों सहित प्राकृतिक पारिस्थितिक तंत्र के संरक्षण और संरक्षण के लिए निर्धारित क्षेत्र हैं। राष्ट्रीय उद्यानों की स्थापना का मुख्य उद्देश्य धीरे-धीरे विलुप्त होते जा रहे विभिन्न प्रजातियों के वन्यजीवो एवं वनस्पतियो का संरक्षण करना है। इन पार्कों का प्रबंधन और नियमन संबंधित राज्य और केंद्र सरकारें करती हैं। राष्ट्रीय उद्यानों की स्थापना के पीछे प्राथमिक उद्देश्य लुप्तप्राय प्रजातियों के दीर्घकालिक अस्तित्व को सुनिश्चित करना और पारिस्थितिक संतुलन बनाए रखना है।

भारत में सिर्फ 5 राष्ट्रीय उद्यान 1970 तक हुआ करते थे, लेकिन भारत सरकार द्वारा वर्ष 1972 में वन्यजीव संरक्षण अधिनियम कानून कानून लाया गया, इसके साथ ही अनेक वन संरक्षण परियोजनाओं को राज्य और केंद्र सरकार ने मिलकर कार्य किया जिसके परिणामस्वरूप वर्तमान में भारत में कुल 106 राष्ट्रीय उद्यानों की स्थापना अब तक हो चुकी है , जिनका कुल क्षेत्रफल भारत के संपूर्ण भू-भाग का लगभग 1.34 प्रतिशत या 44,378 वर्ग किमी. के क्षेत्र को कवर करता है।

National Parks in India : भारत के राष्ट्रीय पार्क

भारत में प्रत्येक राष्ट्रीय उद्यान एक अलग अनुभव प्रदान करता है और अनूठी विशेषताओं को प्रदर्शित करता है, भारत का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान 4400 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ “हेमिस राष्ट्रीय उद्यान” लद्दाख में स्थित है, और भारत का सबसे छोटा राष्ट्रीय उद्यान “साउथ बटन आईलैंड राष्ट्रीय उद्यान” अंडमान निकोबार द्वीप समूह में स्थित है। “केबुल लामजाओ राष्ट्रीय उद्यान” भारत का एकमात्र पानी में तैरता हुआ राष्ट्रीय उद्यान है। “हेली राष्ट्रीय उद्यान” उत्तराखंड भारत का पहला राष्ट्रीय उद्यान है, जो वर्तमान समय में जिम कार्बेट राष्ट्रीय उद्यान के नाम से जाना जाता है इसकी स्थापना वर्ष 1936 में की गई थी।

9 National Park Andaman & Nicobar Islands :

अंडमान द्वीप समूह, अनेक छोटे बड़ें द्वीपों का द्वीपसमूह जो पूरे हिंद महासागर में फैले हुए हैं, अंडमान निकोबार द्वीप प्राकृतिक आकर्षण, वन्य जीवन और जैव विविधता से समृद्ध समुद्री जीवन, आकर्षक मूंगा चट्टानें और मंत्रमुग्ध कर देने वाली पानी के नीचे जलीय जीवन के कारण, अंडमान के राष्ट्रीय उद्यान वन्यजीव पर्यटकों, फोटोग्राफरों और संरक्षणवादियों के लिए पसंदीदा स्थानों में से एक माने जाते हैं।

Campbell Bay National Park Andaman & Nicobar Islands
Campbell Bay National Park
कैंपबेल बे नेशनल पार्क भारत में पूर्वी हिंद महासागर में निकोबार द्वीप समूह में सबसे बड़े ग्रेट निकोबार द्वीप, जो जवा-सुमात्रा के उत्तर में लगभग 190 किमी दूरी पर स्थित है । इसे 1992 में भारत के राष्ट्रीय उद्यान के रूप में राजपत्रित किया गया था, और यह ग्रेट निकोबार बायोस्फीयर रिजर्व का हिस्सा है। पार्क का क्षेत्रफल लगभग 425 वर्ग किमी है। जिसमें गैलाथिया राष्ट्रीय उद्यान का कुछ हिस्सा भी शामिल है।
Galathea National Park Andaman & Nicobar Islands
Galathea National Park
गैलाथिया राष्ट्रीय उद्यान अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के ग्रेट निकोबार द्वीप समूह का सबसे बड़ें द्वीप में स्थित है। पार्क लगभग 110 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है। पार्क को 1992 में भारतीय राष्ट्रीय उद्यान के रूप में नामित किया गया था। गैलाथिया राष्ट्रीय उद्यान ग्रेट निकोबार बायोस्फीयर रिजर्व के दक्षिणी भाग में स्थित है, जिसमें कैंपबेल बे नेशनल पार्क का कुछ हिस्सा भी शामिल है।
Mahatama Gandhi Marine (Wandoor) National Park Andaman & Nicobar Islands
Mahatama Gandhi Marine National Park Wandoor
महात्मा गांधी समुद्री (वंडूर) राष्ट्रीय उद्यान केंद्र शासित प्रदेश अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में उत्तर पश्चिमी तट पर स्थित है। इसमें लगभग 281.5 वर्ग किमी का क्षेत्र शामिल है और इसमें 15 द्वीप शामिल हैं, जिनमें से वांडूर द्वीप सबसे बड़ा है। यह पार्क महात्मा गांधी समुद्री राष्ट्रीय उद्यान और वन्यजीव अभयारण्य का हिस्सा है, जो अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में सबसे बड़ा संरक्षित क्षेत्र है।
Middle Button Island National Park Andaman & Nicobar Islands
Middle Button Island National Park
मिडिल बटन आइलैंड राष्ट्रीय उद्यान जो दक्षिण द्वीप के तट परअंडमान और निकोबार द्वीप समूह में स्थित है। इसकी स्थापना 1979 में रानी झाँसी समुद्री राष्ट्रीय उद्यान का हिस्सा है।द्वीप समूह की राजधानी पोर्ट ब्लेयर से लगभग 200 किमी (124 मील) उत्तर पूर्व में स्थित है। राष्ट्रीय उद्यान का कुल क्षेत्रफल लगभग 64 वर्ग किमी (25 वर्ग मील) है। इस द्वीप पर पोर्ट ब्लेयर से नाव द्वारा पहुंच उपलब्ध हैं।
Mount Harriett National Park Andaman & Nicobar Islands
Mount Harriett National Park
माउंट हैरियट नेशनल पार्क 1979 में एक राष्ट्रीय उद्यान का दर्जा प्राप्त हुआ जिसका क्षेत्रफल 4,662 हेक्टेयर (11,520 एकड़) का क्षेत्र शामिल है, जिसे 1,700 हेक्टेयर (4,200 एकड़) के अतिरिक्त क्षेत्र को कवर करने के लिए विस्तारित किए जाने की संभावना है। पार्क की ऊंचाई 481 मीटर (1,578 फीट) तक है। पार्क के पूर्वी हिस्से में खड़ी ढलानें हैं, छोटे रेतीले क्षेत्रों के बीच चट्टानों से बने हैं।
North Button Island National Park Andaman & Nicobar Islands India
North Button Island National Park
नॉर्थ बटन आइलैंड राष्ट्रीय उद्यान अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में लगभग 44 वर्ग मील (114 वर्गकिमी) में है यहाँ पर आपकों डुगोंग और डॉल्फ़िन जैसे कई कई देखने को मिलेंगे। पार्क की स्थापना अंडमान जिले में1979 में हुई थी, द्वीप का क्षेत्रफल 19.5 हेक्टेयर (48 एकड़) है, और यह बटन द्वीप समूह के अंतर्गत आता है। पार्क का अधिकांश भाग पर्णपाती वनों से आच्छादित गर्म और आर्द्र उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में से एक है।
Rani Jhansi Marine National Park Andaman & Nicobar Islands
Rani Jhansi Marine National Park
पर्यटकों के दिलों में राज करने वाला रानी झाँसी समुद्री राष्ट्रीय उद्यान बंगाल की खाड़ी में अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में स्थित है। इसकी स्थापना 1996 में हुई थी और यह 256 वर्ग किमी में फैला है। यह झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई के नाम पर रखा गया है। यह पोर्ट ब्लेयर से लगभग 30 किमी दूर है। इसमें मूंगा चट्टानें और मैंग्रोव वन शामिल हैं। इस पार्क का सबसे बड़ा आकर्षण फल खाने वाला चमगादड़ है।
Saddle Peak National Park Andaman & Nicobar Islands
Saddle Peak National Park
खूबसूरत सैडल पीक राष्ट्रीय उद्यान उत्तरी अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में स्थित है। इसकी स्थापना 1979 में की गई यह द्वीपसमूह का उच्चतम बिंदु 732 मीटर है, जिसे सैडल हिल्स के नाम से जाना जाता हैं। वन्यजीवों और सुरक्षित आरक्षित वन क्षेत्र है जहां पहाड़ी मैना यहां का आकर्षण हैं। निकटवर्ती स्थानों, रॉस द्वीप, मड ज्वालामुखी, राम नगर बीच और कालीपुर बीच है।
South Button Island National Park Andaman & Nicobar Islands
South Button Island National Park
साउथ बटन आइलैंड नेशनल पार्क अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में स्थित है, इस संरक्षित द्वीप का कुल क्षेत्रफल लगभग 5 वर्ग किमी उत्तरी बटन और मध्य बटन के पड़ोसी द्वीपों, दोनों राष्ट्रीय उद्यानों के साथ, यह दक्षिण अंडमान द्वीप के तट पर रानी झाँसी समुद्री राष्ट्रीय उद्यान का हिस्सा है। हैवलॉक द्वीप से लगभग 24 किमी (15 मील) दक्षिण-पश्चिम में स्थित है, इसकी यात्रा मोटर बोट से लगभग दो घंटे की होती है।

3 National Park Andhra Pradesh

आंध्र प्रदेश भारत के पूर्वी तट पर स्थित है, इसी पूर्वी घाट की पहाड़ी श्रृंखलाएँ जो भारत के पूर्वी तट के लगभग समानांतर फैली हुई हैं, उत्तर में ओडिशा की महानदी नदी घाटी से लेकर दक्षिण में तमिलनाडु की सिरुमलाई पहाड़ियों तक फैली हुई हैं। पूर्वी घाट की पहाड़ी 1,600 किमी तक फैली हुई हैं, जिसका फैलाव क्षेत्रफल लगभग 75,000 वर्ग किलोमीटर से ऊपर के क्षेत्र में हैं। इसी पूर्वी घाट की पहाड़ी में आंध्र प्रदेश के कुल तीन राष्ट्रीय उद्यान हैं, आंध्र प्रदेश राज्य में स्थित हैं। साथ ही कई बड़ी नदियों जैसे गोदावरी, कृष्णा और कावेरी राष्ट्रीय उद्यान की पहाड़ी क्षेत्रों जैव विविधता से भर देती हैं।
पूर्वी घाट के उत्तरी भाग में, विशेष रूप से, नम पर्णपाती और अर्ध-सदाबहार जंगलों का व्यापक विस्तार है जो उच्च जैव विविधता और कई दुर्लभ प्रजातियों को आश्रय देते हैं। यहाँ पर आप एक-एक करके आंध्र प्रदेश राष्ट्रीय उद्यान के बारें में जान सकतें हैं

Papikonda National Park Andhra Pradesh
Papikonda National Park
पापिकोंडा राष्ट्रीय उद्यान आंध्र प्रदेश की पापी पहाड़ियों में राजा महेंद्रवरम के पास अल्लूरी सीतारमा राजू और एलुरु जिलों में स्थित है। यह एक महत्वपूर्ण पक्षी और जैव विविधता वाला पार्क जिसका क्षेत्रफल 1,012.86 वर्गकिमी (391.07 वर्गमील) है। वर्ष 2014 में पोलावरम बांध के निर्माण के बाद पापिकोंडा का कोई भी हिस्सा पूर्वी और पश्चिमी गोदावरी जिलों से बाहर नहीं रहा।
Rajiv Gandhi (Rameswaram) National Park Andhra Pradesh
Rameswaram National Park
रामेश्वरम राष्ट्रीय उद्यान जिसे राजीव गांधी राष्ट्रीय उद्यान नाम से भी जाना जाता हैं। यह आंध्र प्रदेश के कडप्पा जिले रामेश्वरम में स्थित है। इस पार्क क्षेत्रफल लगभग 2.4 वर्ग किलोमीटर है, जो उष्णकटिबंधीय और शुष्क पर्णपाती जंगल जो पेन्ना नदी के उत्तरी तट पर स्थित है। छोटा सा पार्क होने के बाबजूद यह एशियाई हाथियों के लिए प्रसिद्ध जंगल हैं।
Gumti Wildlife Sanctuary Tripura
Sri Venkateswara National Park
श्री वेंकटेश्वर राष्ट्रीय उद्यान आंध्र प्रदेश के तिरूपति में एक बायोस्फीयर रिजर्व पार्क, कुल क्षेत्रफल 353 वर्ग किमी है। यह पार्क में अनेक और सुन्दर झरनों के लिए जाना जाता है, जिनमें तालाकोना, गुंडालकोना और गुंजना आदि झरना शामिल हैं। 2010 में शेषचलम पहाड़ियों को बायोस्फीयर रिजर्व घोषित किया गया।

2 National Park Arunachal Pradesh

भारत का उत्तर पूर्व क्षेत्र अरुणाचल प्रदेश प्राकृतिक विविधता से भरपूर है और दो खूबसूरत परिदृश्य वाले राष्ट्रीय उद्यान जिसमें बाघ, तेंदुआ, हिम तेंदुआ, कैप्ड लंगूर और लाल पांडा जैसी लुप्तप्राय प्रजातियों जैसे जानवरों की एक विस्तृत श्रृंखला पाई जा सकती है।

Mouling National Park Arunachal Pradesh
Mouling National Park
मौलिंग नेशनल पार्क अरुणाचल प्रदेश में ऊपरी सियांग जिले, पश्चिम सियांग और पूर्वी सियांग जिले के कुछ हिस्सों में फैला हुआ है। पार्क का नाम पास की मौलिंग चोटी के नाम पर रखा गया है। मौलिंग एक आदि शब्द है जिसका अर्थ है लाल जहर या लाल रक्त, जिसके बारे में माना जाता है कि यह स्थानीय स्तर पर पाए जाने वाले पेड़ की प्रजाति का लाल लेटेक्स है।

Namdapha National Park
Namdapha National Park
नामदाफा राष्ट्रीय उद्यान भारत का चौथा सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान है, जो पूर्वोत्तर भारत के अरुणाचल प्रदेश में 1,985 वर्गकिमी (766 वर्गमील) फैला संरक्षित क्षेत्र है, जिसकी की स्थापना 1983 में की गई थी। वर्तमान में यह 1,000 से भी अधिक पुष्प और 1,400 पशु प्रजातियों के साथ, यह पूर्वी हिमालय में एक जैव विविधता क्षेत्र है।

7 National Park Assam

पूर्वोत्तर राज्य असम में संरक्षित क्षेत्रों में कुल सात राष्ट्रीय उद्यान, डिब्रू सैखोवा नेशनल पार्क, काजीरंगा नेशनल पार्क, मानस नेशनल पार्क, नेमरी नेशनल पार्क, राजीव गाँधी ओरंग नेशनल पार्क, देहिंग पटकाई नेशनल पार्क, रायमोना नेशनल पार्क असम राज्य के 7 राष्ट्रीय उद्यान हैं और 17 वन्यजीव अभयारण्य ।

Dehing Patkai National Park Assam
Dehing Patkai National Park Assam
देहिंग पटकाई राष्ट्रीय उद्यान असम के डिब्रूगढ़ और तिनसुकिया जिलों में स्थित है, जो 231.65 वर्गकिमी (89.44 वर्गमील) तराई के वर्षावन क्षेत्र फैला है। यह देहिंग पटकाई एक डिप्टरोकार्प-प्रभुत्व वाला निचला वर्षावन है। प्रोजेक्ट एलिफेंट के तहत देहिंग पटकाई हाथी रिजर्व भी है।
Dibru-Saikhowa National Park Assam
Dibru Saikhowa National Park Assam
डिब्रू-सैखोवा राष्ट्रीय उद्यान असम के डिब्रूगढ़ और तिनसुकिया जिलों में स्थित है। 765 वर्गकिमी (295 वर्गमील) के क्षेत्र में फैला हैं। पार्क तिनसुकिया शहर से लगभग 12 किमी है। इस पार्क के उत्तर में ब्रह्मपुत्र, लोहित नदियों के साथ दक्षिण में डिब्रू नदी से घिरा हुआ सबसे बड़ा सैलिक्स दलदली जंगल है।
Kaziranga National Park Assam
Kaziranga National Park Assam
असम राज्य के गोलाघाट और नागांव जिलों में स्थित काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान एक सिंग वाले गंडे के लिए प्रसिद्ध, जो ब्रह्मपुत्र सहित चार प्रमुख नदियों से घिरा हुआ है। यहाँ भारत का एकमात्र गोल्डन टाइगर पाया जाता है, साथ ही यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल है।
Manas National Park Assam
Manas National Park Assam
मानस राष्ट्रीय उद्यान असम हिमालय की तलहटी में स्थित टाइगर रिज़र्व और हाथी रिज़र्व है। यह पार्क अपने दुर्लभ और लुप्तप्राय स्थानिक वन्यजीवों कछुए, हिस्पिड खरगोश, गोल्डन लंगूर और पिग्मी हॉग जंगली भैंसों की आबादी के लिए भी प्रसिद्ध है। मानस राष्ट्रीय उद्यान एक बायोस्फीयर रिजर्व और यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल भी है।
Nameri National Park Assam
Nameri National Park Assam
नामेरी राष्ट्रीय उद्यान असम पूर्वी हिमालय की तलहटी जो सोनितपुर जिले स्थित है। नामेरी की उत्तरी सीमा पाखुई वन्यजीव अभयारण्य अरुणाचल प्रदेश के से लगती है। मानस टाइगर रिजर्व के बाद यह असम का दूसरा टाइगर रिजर्व है।
Rajiv Gandhi Orang National Park Assam
Orang National Park Assam
ओरंग राष्ट्रीय उद्यान असम के दरांग और सोनितपुर जिलों में ब्रह्मपुत्र नदी के उत्तरी तट पर स्थित है। इसका क्षेत्रफल 79.28 वर्गकिमी (30.61 वर्गमील) है। यह ब्रह्मपुत्र के उत्तरी तट पर गैंडों का एकमात्र गढ़ है।
Raimona National Park Assam
Raimona National Park Assam
रायमोना राष्ट्रीय उद्यान असम, हिमालय की तलहटी के सुदूर पश्चिमी भाग में स्थित है। यह बीटीआर के कोकराझार जिले के गोसाईगांव और कोकराझार उपखंडों में फैले पार्क की सीमा भूटान, पश्चिम बंगाल और बक्सा टाइगर रिजर्व से लगती है।

1 National Park Bihar

भारत के बिहार के पश्चिम चंपारण जिले में स्थित वाल्मिकी राष्ट्रीय उद्यान, बिहार राज्य का एकमात्र राष्ट्रीय उद्यान है, जिसे IUCN श्रेणी II के तहत बाघ अभयारण्य और वन्यजीव अभयारण्य के रूप में नामित किया गया है। 898.45 किमी2 (346.89 वर्ग मील) के विशाल क्षेत्र को शामिल करते हुए, जो जिले के कुल भौगोलिक विस्तार का 17.4% है, वाल्मिकी टाइगर रिजर्व वन्यजीवों के लिए एक महत्वपूर्ण निवास स्थान है, जो 2022 तक 54 बाघों की मेजबानी कर रहा है।

Valmiki National Park Bihar
Valmiki National Park Bihar
वाल्मिकी राष्ट्रीय उद्यान बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले में पश्चिम चंपारण जिले में स्थित है। बिहार में एक राष्ट्रीय उद्यान, एक बाघ अभयारण्य और 21 वन्यजीव अभयारण्य हैं।

3 National Park Chhattisgarh

मध्य भारत की धरती में स्थित छत्तीसगढ़ उन राज्यों में से है, जहां वन क्षेत्रफल लगभग 1,35,133 वर्ग किलोमीटर वन भूमि है, जो छत्तीसगढ़ के कुल क्षेत्रफल का 44 प्रतिशत भाग है, और भारत के वनों का 12 प्रतिशत भाग है, जो वन आवरण के मामले में यह भारत में तीसरे स्थान पर है। । छत्तीसगढ़ समृद्ध जैव-विविधता से भरा पड़ा हैं जिसमें तीन राष्ट्रीय उद्यान, तीन बाघ अभयारण्य, 8 वन्यजीव अभयारण्य, 1 जैव-क्षेत्र रिजर्व हैं।

Sanjay National Park Chhattisgarh
Guru Ghasidas (Sanjay) National Park
संजय राष्ट्रीय उद्यान छत्तीसगढ़ के मनेंद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर जिले और मध्य प्रदेश राज्य के सिंगरौली जिले में स्थित है। इसका क्षेत्रफल 2,300 वर्गकिमी (890 वर्गमील) है, जो नर्मदा घाटी के शुष्क पर्णपाती वन क्षेत्र में स्थित हैं, इस पार्क संजय-दुबरी टाइगर रिजर्व स्थित है।
Indravati National Park Chhattisgarh
Indravati (Kutru) National Park Chhattisgarh
इंद्रावती राष्ट्रीय उद्यान छत्तीसगढ़ राज्य के बीजापुर जिले में स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान है। इस पार्क का नाम इंद्रावती नदी से लिया गया है, जो पूर्व से पश्चिम की ओर बहती है, यह छत्तीसगढ़ के सबसे प्रसिद्ध वन्यजीव पार्कों में से एक है। पार्क के एक बड़े हिस्से पर नक्सली गतिविधियों का संचालन होता है।
Kanger Valley National Park Chhattisgarh
Kanger Valley National Park Chhattisgarh
कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान छत्तीसगढ़ राज्य में वन और वन्य जीवन सहित प्राकृतिक संसाधन प्रचुर मात्रा में हैं। बस्तर क्षेत्र में स्थित कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान शानदार झरनों के लिए बहुत प्रसिद्ध है। कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान का कुल क्षेत्रफल 200 वर्गकिमी है।

1 National Park Goa

गोवा का एकमात्र राष्ट्रीय उद्यान मोल्लेम नेशनल पार्क है, जो दक्षिणी गोवा ज़िले में मोल्लेम शहर के पास स्थित है। मोल्लेम नेशनल पार्क लगभग 107 वर्ग किलोमीटर के सह्याद्रि की पहाड़ियों क्षेत्र में फैला हुआ है।

Mollem National Park Goa
Mollem National Park Goa
मोलेम राष्ट्रीय उद्यान गोवा जो, 240 वर्ग किलोमीटर (93 वर्गमील) क्षेत्र में जो पश्चिम भारत के पश्चिमी घाट में, गोवा राज्य के धारबंदोरा तालुक में, कर्नाटक के साथ पूर्वी सीमा पर स्थित है। यह क्षेत्र गोवा की राजधानी पणजी से 57 किलोमीटर (35 मील) पूर्व में मोलेम शहर के पास स्थित है। इसमें गोवा के कई महत्वपूर्ण मंदिर हैं, दूधसागर झरना और तांबडी झरना भगवान महावीर अभयारण्य गोवा में पश्चिमी घाट में स्थित है।

4 National Park Gujarat

गुजरात अपनी मनमोहक प्राकृतिक सुंदरता और सुरम्य समुद्र तटों के लिए जाना जाता है। यह राज्य देश के सबसे धनी वन्यजीव स्थलों में से एक है जो एशिया के एक मात्र शेर वहुतायत मात्रा में पाया जाता हैं।

Vansda National Park Gujarat
Vansda National Park Gujarat
वंसदा राष्ट्रीय उद्यान डांग और दक्षिणी गुजरात के नवसारी जिले की वंसदा तहसील में स्थित है। अंबिका नदी के तट पर स्थित लगभग 24 वर्ग किमी क्षेत्रफल वाला यह पार्क स्थानीय जनजातियाँ, जीरा झरना के लिए प्रसिद्ध हैं।
Blackbuck (Velavadar) National Park Gujarat
Blackbuck (Velavadar) National Park Gujarat ब्लैकबक राष्ट्रीय उद्यान गुजरात राज्य के सौराष्ट्र के भाल क्षेत्र भावनगर जिले के वेलावदर में स्थित है। दक्षिण में खंभात की खाड़ी के तटों किनारे 34.08 वर्गकिमी के क्षेत्र में फैला हुआ है, जो मुख्य रूप काले हिरणों और मृगों के झुंड के लिए प्रसिद्ध हैं।
Gir National Park Gujarat
Gir National Park Gujarat
गिर राष्ट्रीय उद्यान गुजरात, सासन गिर के नाम से भी जाना जाता है, भारत के गुजरात में तलाला गिर के पास एक वन, राष्ट्रीय उद्यान और वन्यजीव अभयारण्य है। गिर राष्ट्रीय उद्यान हर साल पूरे मानसून मौसम में 16 जून से 15 अक्टूबर तक बंद रहता है।
Marine (Gulf of Kachchh) National Park Gujarat
Marine (Gulf of Kachchh) National Park Gujarat कच्छ की खाड़ी समुद्री राष्ट्रीय उद्यान गुजरात राज्य के देवभूमि द्वारका जिले में कच्छ की खाड़ी के दक्षिणी तट पर स्थित है। मरीन नेशनल पार्क जामनगर तट पर 42 द्वीप हैं, जिनमें से ज्यादातर द्वीप चट्टानों से घिरे हुए हैं, सबसे प्रसिद्ध द्वीप पिरोटन है।

2 National Park Haryana

हरियाणा राज्य में कुल दो राष्ट्रीय उद्यान हैं, प्रथम सुल्तानपुर राष्ट्रीय उद्यान तथा द्वितीय कलेसर राष्ट्रीय उद्यान।

Kalesar National Park Haryana
Kalesar National Park Haryana
कालेसर राष्ट्रीय उद्यान यमुनानगर ज़िले में पड़ता है, जो चण्डीगढ़ से लगभग 15 किमी दूरी पर स्थित हैं। इसके उत्तर मे हिमाचल प्रदेश का अभ्यारण और पूर्व मे शाकम्भरी की पहाडियां है। उद्यान का नाम कालेसर (कालेश्वर) महादेव शिव मन्दिर पर है, जो उद्यान के भीतर ही स्थित है।
Sultanpur National Park Haryana
Sultanpur National Park Haryana
कलेसर राष्ट्रीय उद्यान लाल जंगली मुर्गों के लिए विश्व प्रसिद्ध है, जो वर्ष 2003 में राष्ट्रीय उद्यान घोषित किया गया था।

5 National Park Himachal Pradesh

उत्तर भारत का सुन्दर राज्य हिमाचल प्रदेश, हिमालय में बर्फीली घाटियाँ और प्राकृतिक जंगली परिदृश्य से भरे पहाड़ से तेज़ बहती नदियाँ के साथ पांच राष्ट्रीय उद्यान भी देखें।

Great Himalayan National Park Himachal Pradesh
Great Himalayan National Park
ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थलों की सूची में जोड़ा गया भारत का एक राष्ट्रीय उद्यान है, जो हिमाचल प्रदेश राज्य के कुल्लू क्षेत्र में स्थित है।
Inderkilla National Park Himachal Pradesh
Inderkilla National Park
इंदरकिला राष्ट्रीय उद्यान का क्षेत्रफल लगभग 104 वर्ग किलोमीटर है, जो कुल्लू जिले में स्थित है और कुल्लू मनाली हवाई अड्डे से 46 किलोमीटर दूर है, जो पहाड़ी हिरण और बकरियों के लिए प्रसिद्ध हैं।
Khirganga National Park Himachal Pradesh
Khirganga National Park
खिरगंगा राष्ट्रीय उद्यान 710 वर्ग किलोमीटर का एक राष्ट्रीय उद्यान है। यह पार्क पार्वती घाटी में 2,000 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है, जिसे कुल्लू घाटी के नाम से भी जाना जाता है।
Pin Valley National Park Himachal Pradesh
Pin Valley National Park
पिन वैली नेशनल पार्क 675 वर्ग किलोमीटर का ठंडे रेगिस्तानी क्षेत्र स्पीति घाटी में स्थित है। राष्ट्रीय छुट्टियों को छोड़कर, पार्क हर दिन सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक खुला रहता है। यह पार्क दक्षिण पश्चिम में ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क और दक्षिण में रूपी भाभा अभयारण्य के निकट है।
Simbalbara National Park Himachal Pradesh
Simbalbara National Park
सिंबलबाड़ा राष्ट्रीय उद्यान हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले की पोंटा घाटी में स्थित है। इसे कर्नल शेर जंग राष्ट्रीय उद्यान और सिंबलवाड़ा वन्यजीव अभयारण्य के रूप में भी जाना जाता है। यह पार्क अपने विविध वन्य जीवन और पक्षी प्रजातियों के लिए जाना जाता है।

3 National Park Jammu & Kashmir

जम्मू और कश्मीर की स्वर्ग से सुन्दर सफ़ेद घाटी बर्फ से ढके पहाड़ों, प्रचुर मात्रा में वनस्पति और फूलों से ढकी घास के मैदानों के अलावा डल झील और शिकारा की सवारी के लिए प्रसिद्ध है।

City Forest (Salim Ali National Park Jammu & Kashmir
Salim Ali National Park
सलीम अली राष्ट्रीय उद्यान (City Forest National Park) 9.07 वर्ग किलोमीटर में फैला है, हिमालयी मोनाल और पक्षी जीवन के लिए जाना जाता है। पार्क की प्रमुख प्रजाति है।
Dachigam National Park Jammu & Kashmir
Dachigam National Park
दाचीगाम राष्ट्रीय उद्यान 141 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला, श्रीनगर से 22 किलोमीटर दूर डल झील के पूर्वी किनारे पर स्थित है। लुप्तप्राय हंगुल, कश्मीर हिरण और हिम तेंदुओं को देखने के लिए एक बेहतरीन जगह के रूप में जाना जाता है।
Kishtwar National Park Jammu & Kashmir
Kishtwar National Park
किश्तवाड़ राष्ट्रीय उद्यान, किश्तवाड़ शहर से 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। उत्तर में रिन्नय नदी, दक्षिण में किबर नाला, पूर्व में ग्रेट हिमालय और पश्चिम में मारवाह नदी से घिरा, 1700 से 4800 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है।

1 National Park Ladakh

भारत के लद्दाख में स्थित हेमिस राष्ट्रीय उद्यान सबसे आधिक ऊंचाई वाला राष्ट्रीय उद्यान है। हिम तेंदुओं के लिए विश्व प्रसिद्ध है, और दुनिया के किसी भी संरक्षित क्षेत्र में इनका घनत्व सबसे अधिक है।

Hemis National Park Ladakh
Hemis National Park Ladakh
भारत का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान कहा जाने वाला हेमिस 4400 वर्ग किमी के क्षेत्र में फैला हुआ है। लद्दाख का यह राष्ट्रीय उद्यान हिम तेंदुओं की आबादी के लिए प्रसिद्ध है।

1 National Park Jharkhand

बेतला राष्ट्रीय उद्यान भारत के झारखंड के लातेहार और पलामू जिले में छोटा नागपुर पठार क्षेत्र में स्थित राज्य का एकलौता राष्ट्रीय उद्यान है।

Betla National Park Jharkhand
Betla National Park Jharkhand
बेतला राष्ट्रीय उद्यान झारखंड के लातेहार जिले में पड़ता है। 226.33 वर्ग किमी में फैला हुआ यह राज्य का एकमात्र राष्ट्रीय उद्यान है और यह 1986 में अधिसूचित किया गया जो पलामू टाइगर रिजर्व के मुख्य क्षेत्र का हिस्सा है।

5 National Park Karnataka

कर्नाटक कई अनूठे पर्यटन स्थलों के लिए प्रसिद्ध है, जैसे मैसूर, हम्पी, कूर्ग, शिवानासमुद्र झरने, बांदीपुर टाइगर रिजर्व (राष्ट्रीय उद्यान), नागरहोल टाइगर रिजर्व, बन्नेरघट्टा राष्ट्रीय उद्यान, मुदुमलाई राष्ट्रीय उद्यान, कुद्रेमुख राष्ट्रीय उद्यान और वन्यजीव अभयारण्य है।

Wildlife Sanctuaries of India
Anshi National Park
अंशी राष्ट्रीय उद्यान इसे काली टाइगर रिजर्व के नाम से भी जाना जाता है, जो उत्तर कन्नड़ जिले में स्थित हैं। यह पार्क विभिन्न प्रकार के पौधों और जानवरों का घर है, जिनमें बंगाल टाइगर, ब्लैक पैंथर और भारतीय हाथी शामिल हैं।
Bandipur National Park & Bandipur Tiger Reserve Karnataka
Bandipur National Park
बांदीपुर राष्ट्रीय उद्यान चामराजनगर जिले के गुंडुलपेट तालुक में स्थित है, साथ ही भारतीय बाघों की दूसरी सबसे बड़ी आबादी यही पाई जाती हैं और दक्षिण एशिया में जंगली हाथियों का सबसे बड़ा निवास स्थान बनाता है।
Bannerghatta National Park Karnataka
Bannerghatta National Park
बन्नेरघट्टा राष्ट्रीय उद्यान बैंगलोर के पास 260.5 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में स्थित है। इसकी स्थापना 1970 में हुई और 1974 में इसे राष्ट्रीय उद्यान घोषित किया गया।
Kudremukh National Park Karnataka
Kudremukh National Park
कुद्रेमुख राष्ट्रीय उद्यान कर्नाटक के पश्चिमी घाट का सबसे बड़ा संरक्षित क्षेत्र है, जो 600.32 वर्ग किलोमीटर का प्राकृतिक आरक्षित क्षेत्र है।
Nagarhole National Park Karnataka
Nagarhole National Park
नागरहोल राष्ट्रीय उद्यान, जिसे राजीव गांधी राष्ट्रीय उद्यान के नाम से भी जाना जाता है, इस पार्क अन्दर से काबिनी नदी बहती है।

6 National Park Kerala

केरल के जीवमंडल में सबसे समृद्ध जैव विविधता से भरे यहां के छह राष्ट्रीय उद्यान हैं, जिनमें अनामुदी शोला राष्ट्रीय उद्यान, पेरियार राष्ट्रीय उद्यान, साइलेंट वैली राष्ट्रीय उद्यान, मथिकेट्टन शोला राष्ट्रीय उद्यान, एराविकुलम राष्ट्रीय उद्यान, पम्बदम शोला राष्ट्रीय उद्यान शामिल हैं।

Anamudi Shola National Park Kerala
Anamudi Shola National Park
अनामुदी शोला राष्ट्रीय उद्यान इडुक्की जिले में 7.5 वर्ग किलोमीटर का संरक्षित वन्यजीव आश्रय स्थल है। यह पार्क पश्चिमी घाट में एराविकुलम राष्ट्रीय उद्यान के ठीक पूर्व में स्थित है। यह मन्नावन शोला, इदिवारा शोला और पुलार्डी शोला से बना है।
Eravikulam National Park Kerala
Eravikulam National Park
एराविकुलम राष्ट्रीय उद्यान 97 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में यह पश्चिमी घाट के साथ केरल के इडुक्की और एर्नाकुलम जिलों में स्थित है। क्षेत्रफल के हिसाब से यह पार्क केरल का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान माना जाता है।
Mathikettan Shola National Park Kerala
Mathikettan Shola National Park
मथिकेट्टन शोला राष्ट्रीय उद्यान इडुक्की जिले में 12.82 वर्ग किलोमीटर का राष्ट्रीय उद्यान है। इसकी स्थापना 21 नवंबर 2003 को हुई थी।
Pambadum Shola National Park Kerala
Pambadum Shola National Park
पंबाडुम शोला राष्ट्रीय उद्यान 132 हेक्टेयर का एक राष्ट्रीय उद्यान है। 2003 में स्थापित, यह इडुक्की जिले का सबसे छोटा राष्ट्रीय उद्यान है। यह पार्क मुन्नार शहर से 35 किलोमीटर दूर दक्षिणी पश्चिमी घाट के पूर्वी भाग में स्थित है।
Periyar Kerala
Periyar National Park
पेरियार राष्ट्रीय उद्यान पश्चिमी घाट में 305 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला पार्क तमिलनाडु की सीमा के साथ पंडालम पहाड़ियों और इलायची पहाड़ियों में स्थित है। यह निकटतम शहर, कुमिली से लगभग 4 किलोमीटर दूर है।
Silent Valley National Park Kerala
Silent Valley National Park
साइलेंट वैली नेशनल पार्क की स्थापना 26 दिसंबर 1984 को हुई थी और यह नीलगिरि पहाड़ियों में स्थित है। पार्क का मुख्य क्षेत्र 89.52 वर्ग किलोमीटर है और यह 148 वर्ग किलोमीटर के बफर जोन से घिरा हुआ है।

10 National Park Madhya Pradesh

भारत में सबसे ज्यादा राष्ट्रीय उद्यानों की संख्या मध्य प्रदेश राज्य में कुल 12 राष्ट्रीय उद्यान है, जिसका कारण मध्य प्रदेश में भारत के सबसे घने और ज्यादा जंगल पाए जातें हैं। इसके साथ ही 6 राष्ट्रीय उद्यानों को टाइगर रिजर्व का दर्जा प्राप्त हो चूका है। मध्य प्रदेश के सभी राष्ट्रीय उद्यानों की सूची नीचे देखें ….

Bandhavgarh National Park Madhya Pradesh
Bandhavgarh National Park
बांधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान विंध्य की सुंदर पहाड़ियों में 05 वर्ग किलोमीटर के मुख्य क्षेत्र और लगभग 400 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। रॉयल बंगाल टाइगर्स की आबादी और सफेद बाघों के लिए प्रसिद्ध, बांधवगढ़ जिसमें खड़ी चोटियाँ, लहरदार जंगल और विशाल घास के मैदान हैं।
Fossil National Park Madhya Pradesh
Fossil National Park, Ghughwa
घुघवा राष्ट्रीय जीवाश्म पार्क, डिंडोरी से 70 किलोमीटर दूर घुघवा गांव में स्थित है, जो 75 एकड़ क्षेत्र में फैला है। यह अनोखा पार्क आकर्षक और दुर्लभ जीवाश्मों का खजाना है, जो बीते युग की पत्तियों और पेड़ों को प्रदर्शित करता है। पार्क के भीतर जीवाश्मित पौधे 40 मिलियन से 150 मिलियन वर्ष पूर्व की अवधि के हैं।
Dinosaur Fossils National Park Madhya Pradesh
Dinosaur Fossils National Park
जीवाश्मों के संग्रह और संरक्षण के लिए समर्पित एक केंद्र, जिसे फॉसिल पार्क के नाम से जाना जाता है, बाग क्षेत्र जिला धार में 89 हेक्टेयर क्षेत्र में फैला हुआ है।
Pench National Park
Pench National Park
पेंच राष्ट्रीय उद्यान 257.3 वर्ग किलोमीटर में फैला पार्क की स्थापना 1965 में हुई थी और 1975 में इसे राष्ट्रीय उद्यान के रूप में मान्यता दी गई। 1992 में यह बाघ अभयारण्य बन गया। पेंच नदी पार्क को लगभग दो बराबर भागों में विभाजित करती है।
Kanha National Park Madhya Pradesh
Kanha National Park
कान्हा राष्ट्रीय उद्यान मंडला और बालाघाट के सतपुड़ा की मैकल श्रृंखला में 940 वर्ग किमी क्षेत्र में फैला हुआ है, जो 1955 में राष्ट्रीय उद्यान में घोषित किया गया था। बफर और कोर जोन को मिलाकर कान्हा टाइगर रिजर्व का कुल क्षेत्रफल 1945 वर्ग किमी है।
Madhav National Park Madhya Pradesh
Madhav National Park
माधव राष्ट्रीय उद्यान शिवपुरी जिले में 354 वर्ग किलोमीटर का प्राकृतिक क्षेत्र है। इसकी स्थापना 1958 में हुई थी और यह विंध्य पहाड़ियों में फैला है। यह पार्क विभिन्न प्रकार के मृगों और हिरणों के साथ-साथ तेंदुए, भेड़िये, सियार और लोमड़ियों जैसे मांसाहारी जीवों से भरा पड़ा है।
Panna National Park Madhya Pradesh
Panna National Park
पन्ना राष्ट्रीय उद्यान 542.7 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला पार्क महाराष्ट्र की सीमा से लगे सतपुड़ा पर्वतमाला की निचली दक्षिणी पहाड़ियों में स्थित है। यह केन नदी के तट पर स्थित है, जो यमुना नदी की एक सहायक नदी है, इसकी स्थापना 1981 में हुई थी।
Sanjay Dubari Tiger Reserve & National Park Madhya Pradesh
Sanjay National Park
संजय-डुबरी राष्ट्रीय उद्यान (टाइगर रिजर्व) की स्थापना 1975 में सीधी जिले के 831 वर्ग किमी से अधिक क्षेत्र में की गई। यह नर्मदा घाटी के शुष्क पर्णपाती वन क्षेत्र में स्थित है।
Satpura Tiger Reserve Madhya Pradesh
Satpura National Park
सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान (सतपुड़ा टाइगर रिजर्व) नर्मदापुरम जिले में 524 वर्ग किलोमीटर में इसकी स्थापना 1981 में हुई थी और इसका नाम सतपुड़ा पर्वतमाला के नाम पर रखा गया है, पार्क का मुख्य जल स्रोत डेनवा नदी है।
Van Vihar National Park Bhopal Madhya Pradesh
Van Vihar National Park Bhopal
वन विहार राष्ट्रीय उद्यान भोपाल में 4.48 वर्ग किलोमीटर है, जो भोपाल शहर के बीचों-बीच हैं, इसकी स्थापना 1979 में हुई थी।

6 National Park Maharashtra

महाराष्ट्र राज्य में बहुत सारे अभयारण्य और राष्ट्रीय उद्यान हैं, जिनमें चंदोली राष्ट्रीय उद्यान, गुगामल राष्ट्रीय उद्यान, ताडोबा अंधारी बाघ अभयारण्य, नवेगांव राष्ट्रीय उद्यान, पेंच राष्ट्रीय उद्यान और संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान हैं।

Chandoli National Park Maharashtra
Chandoli National Park
चंदोली राष्ट्रीय उद्यान इसकी स्थापना मई 2004 में हुई थी, 317.7 वर्ग किलोमीटर का यह पार्क सह्याद्रि टाइगर रिजर्व का हिस्सा है, जिसका उत्तरी भाग कोयना वन्यजीव अभयारण्य है।एक राष्ट्रीय उद्यान है।
Gugamal National Park Maharashtra
Gugamal National Park
गुगामल राष्ट्रीय उद्यान अमरावती जिले में मेलघाट टाइगर रिजर्व के सात संरक्षित क्षेत्रों में से एक है। यह पार्क 22 फरवरी 1974 को स्थापित किया गया था, और यह 350-1,178 मीटर की ऊंचाई पर सतपुड़ा पर्वत श्रृंखला में स्थित है।
Navegaon National Park Maharashtra
Navegaon National Park
नवेगांव राष्ट्रीय उद्यान गोंदिया जिले के अर्जुनी मोरगांव उपखंड में स्थित है। “नवेगांव” नाम नवे + गांव शब्द से आया है। यहां पर अधिकतर आदिवासी लोग रहते हैं और यह स्थान पुराने समय में यह क्षेत्र गोंड राजाओं के अधीन था।
Pench National Park
Pench National Park
पेंच राष्ट्रीय उद्यान 257.3 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में इसकी स्थापना 1975 में हुई थी और यह दो राज्यों में फैले पहले बाघ अभ्यारण्यों में से एक है। पार्क का नाम पेंच नदी के नाम पर रखा गया है, जो इसमें उत्तर से दक्षिण की ओर बहती है।
Sanjay Gandhi (Borivilli) National Park Maharashtra
Sanjay Gandhi National Park
संजय गांधी राष्ट्रीय उद्यान मुंबई, महाराष्ट्र में 34 वर्ग मील का संरक्षित क्षेत्र है। यह एशिया में सबसे अधिक देखे जाने वाले राष्ट्रीय उद्यानों में से एक है और शहर की सीमा के भीतर सबसे बड़ा पार्क है।
Tadoba National Park
Tadoba National Park
ताडोबा राष्ट्रीय उद्यान चंद्रपुर जिले में यह ताडोबा-अंधारी टाइगर रिजर्व का हिस्सा है, जिसे 1955 में स्थापित किया गया था और यह महाराष्ट्र का सबसे बड़ा और सबसे पुराना राष्ट्रीय उद्यान है।

1 National Park Manipur

पूर्वोत्तर भारत के मणिपुर राज्य के बिष्णुपुर जिले में एकमात्र केइबुल लामजाओ राष्ट्रीय उद्यान है,जो 40 किमी2 (15.4 वर्ग मील) क्षेत्रफल में फैला है।

Keibul Lamjao National Park Manipur
Keibul Lamjao National Park Manipur
केइबुल लामजाओ राष्ट्रीय उद्यान दुनिया का एकमात्र तैरता हुआ राष्ट्रीय उद्यान है, और लोकतक झील का अभिन्न अंग है।यूनेस्को विश्व धरोहर स्थलों की अस्थायी सूची में है, इसके अलावा लोकटक झील (140 वर्ग किमी) और पुमलेन पैट (43 वर्ग किमी) के बफर को भी कवर करता है।

2 National Park Meghalaya

उत्तर-पूर्वी भारत का एक छोटा सा राज्य मेघालय, जिसका शाब्दिक अर्थ है “बादलों का निवास”। वन क्षेत्र 9,496 वर्ग किमी है, जो राज्य के कुल भौगोलिक क्षेत्र का 42.34% है।

Balphakram National Park Meghalaya
Balphakram National Park
बलफाक्रम राष्ट्रीय उद्यान 220 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल में इसकी स्थापना 27 दिसंबर 1987 को हुई थी और यह बांग्लादेश की सीमा के करीब गारो हिल्स के दक्षिण में स्थित है। पार्क का नाम “सतत हवाओं की भूमि” है। यह पार्क लेसर पांडा का घर है, जिसे रेड पांडा के नाम से भी जाना जाता है, जो दुनिया के सबसे लुप्तप्राय जानवरों में से एक है।
Nokrek Ridge National Park Meghalaya
Nokrek Ridge National Park
नोकरेक नेशनल पार्क मेघालय राज्य के गारो हिल्स में स्थित है, जो तीन जिलों, यानी पूर्वी गारो हिल्स, पश्चिम गारो हिल्स और दक्षिण गारो हिल्स के हिस्सों को कवर करता है। नोकरेक को 1986 में राष्ट्रीय उद्यान घोषित किया गया था जबकि अंतिम अधिसूचना 1997 में जारी की गई थी।

2 National Park Mizoram

मिजोरम पूर्व और दक्षिण में म्यांमार और पश्चिम में बांग्लादेश से घिरा है, यह इंडो-मलायन जैव-भौगोलिक क्षेत्र के अंतर्गत आता है। मिजोरम, उत्तर और दक्षिण की ओर बहने वाली नदियों द्वारा अलग किए गए खड़ी ढलानों के साथ पहाड़ियों और झरनों, हरी-भरी घाटियों और झरनों के बीच गहरी घाटियों के साथ, मिजोरम प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर है।

Murlen National Park Mizoram
Murlen National Park
मुरलेन राष्ट्रीय उद्यान चम्फाई जिले में 200 वर्ग किलोमीटर फैला है, इसकी स्थापना 1991 में हुई थी और यह आइजोल से लगभग 245 किलोमीटर पूर्व में, चिन हिल्स और भारत-म्यांमार सीमा के करीब स्थित है।
Kaimoor Wildlife Sanctuary Uttar Pradesh
Phawngpui Blue Mountain National Park
फौंगपुई ब्लू माउंटेन नेशनल पार्क 50 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला हैं, इसकी स्थापना 1992 में हुई थी और यह आइजोल से लगभग 300 किलोमीटर दूर लॉन्ग्टलाई जिले में स्थित है। यह पार्क म्यांमार की सीमा के करीब है और पूर्व में कोलोडीन नदी से घिरा है।

1 National Park Nagaland

नतांगकी राष्ट्रीय उद्यान भारत के नागालैंड के पेरेन जिले में स्थित एकलौता राष्ट्रीय उद्यान है। इसे पहली बार 1993 में राष्ट्रीय उद्यान के रूप में नामित किया गया था। पार्क में रहने वाली प्रजातियों में दुर्लभ हूलॉक गिब्बन, गोल्डन लंगूर, हॉर्नबिल, एशियन पाम सिवेट, ब्लैक स्टॉर्क, बाघ, सफेद स्तन वाले किंगफिशर, मॉनिटर छिपकली, अजगर और स्लॉथ भालू शामिल हैं। . “नतांगकी” नाम ज़ेलियानग्रोंग नागाओं की ज़ेमे बोली से लिया गया है।

Sepahijala Wildlife Sanctuary Tripura
Intanki National Park, Nagaland
इंतांकी राष्ट्रीय उद्यान, जिसे नतांगकी राष्ट्रीय उद्यान के नाम से भी जाना जाता है, पेरेन जिले में यह पार्क 202.02 वर्ग किलोमीटर का है। जिनमें हूलॉक गिब्बन, पाम सिवेट, स्लॉथ भालू और बाघ शामिल हैं।

2 National Park Odisha

ओडिशा में दो राष्ट्रीय उद्यान हैं, जिनमें सिमलिपाल राष्ट्रीय उद्यान, भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान और वन्यजीव अभयारण्य अन्य प्रकृति भंडार शामिल हैं।

Bhitarkanika National Park Odisha
Bhitarkanika National Park
भितरकनिका राष्ट्रीय उद्यान केंद्रपाड़ा जिले में 145 किमी 2 (56 वर्ग मील) है। इसे 16 सितंबर 1998 को नामित किया गया था और 19 अगस्त 2002 को इस क्षेत्र को चिल्का झील के बाद राज्य के दूसरे रामसर साइट के रूप में भी नामित किया गया है।
Satkosia Tiger Reserve Odisha
Simlipal National Park
सिमलीपाल राष्ट्रीय उद्यान मयूरभंज जिले में 2,750 वर्ग किलोमीटर का बाघ अभयारण्य और हाथी रिजर्व का हिस्सा है, जिसमें हदगढ़ वन्यजीव अभयारण्य और कुलडीहा वन्यजीव अभयारण्य भी शामिल हैं। पार्क का नाम “सिमुल” (रेशमी कपास) पेड़ के नाम पर रखा गया है।

5 National Park Rajasthan

Desert National Park Rajasthan
Desert National Park
डेजर्ट नेशनल पार्क (डीएनपी) भारत के राजस्थान के थार रेगिस्तान क्षेत्र में 3,162 वर्ग किमी का एक राष्ट्रीय उद्यान है। यह भारत के सबसे बड़े राष्ट्रीय उद्यानों में से एक है। यह पार्क जैसलमेर और बाड़मेर शहरों के पास स्थित है, और थार रेगिस्तान के पारिस्थितिकी तंत्र का एक उदाहरण है। यह एक शुष्क क्षेत्र है जहाँ बहुत कम वर्षा होती है, 100 मिमी से भी कम। पार्क के दो मुख्य आकर्षण हैं: रेत के टीले, रेगिस्तानी वन्य जीवन।

1 National Park Sikkim

5 National Park Tamil Nadu

3 National Park Telangana

2 National Park Tripura

1 Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश राज्य में केवल एक दुधवा राष्ट्रीय उद्यान है जो लखीमपुर जिले में स्थित है।

6 National Park Uttarakhand

Jim Corbett National Park Uttarakhand
Jim Corbett National Park Uttarakhand
जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क उत्तराखंड भारत का प्रथम राष्ट्रीय उद्यान हैं, जिसकी स्थापना वर्ष 1936 में हैली नेशनल पार्क रूप में की गई थी, बाद में इस राष्ट्रीय उद्यान का नाम बदलकर ‘ जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क ‘ रखा गया और जिम कार्बेट राष्ट्रीय उद्यान को भारत का पहला टाइगर रिजर्व भी हैं।

6 National Park West Bengal

error: Content is protected !!
Scroll to Top