Narmadapuram

Narmadapuram

5/5 - (1 vote)

नर्मदापुरम, जिसे होशंगाबाद के नाम से भी जाना जाता है, भारत के मध्य प्रदेश के नर्मदापुरम (होशंगाबाद) जिले में स्थित विंध्य और सतपुड़ा पर्वत श्रृंखलाओं के बीच बसा एक शहर है। यह शहर नर्मदा नदी के तट पर स्थित है और हरे-भरे जंगलों और पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यहां आपको नर्मदापुरम के बारे में जानने की जरूरत है। नर्मदापुरम का एक समृद्ध इतिहास है जो 5वीं शताब्दी ईसा पूर्व का है। इस शहर पर मौर्य, सातवाहन, गुप्त और मुगल जैसे विभिन्न राजवंशों का शासन था। ब्रिटिश काल के दौरान, शहर कपास के व्यापार का एक महत्वपूर्ण केंद्र था। भारत को स्वतंत्रता मिलने के बाद, शहर का नाम बदलकर होशंगाबाद कर दिया गया।

नर्मदापुरम में मुख्य आकर्षणों में से एक नर्मदा नदी है, जो शहर से होकर बहती है। नदी के किनारे इत्मीनान से नाव की सवारी करें और आसपास के परिदृश्य के मनमोहक दृश्यों का आनंद लें।सूर्यास्त के समय नदी को मनमोहक देखने का मौका न चूकें – यह वास्तव में देखने लायक दृश्य है। यदि आप प्रकृति प्रेमी हैं, तो नर्मदापुरम जब भी आयें पास ही अमरकंटक की यात्रा अवश्य करें। नर्मदा नदी के स्रोत के रूप में जाना जाने वाला अमरकंटक ट्रेकर्स और वन्यजीव प्रेमियों के लिए स्वर्ग है। हरे-भरे जंगलों का अन्वेषण करें, विदेशी पक्षी प्रजातियों को देखें और झरने के झरने को देखकर आश्चर्यचकित हो जाएँ।

नर्मदापुरम समृद्ध सांस्कृतिक विरासत से भरा हुआ है, जिसमें पूरे शहर में कई मंदिर और ऐतिहासिक स्थल फैले हुए हैं। देवी काली को समर्पित कालिका माता मंदिर एक लोकप्रिय तीर्थ स्थल है और आध्यात्मिक साधकों के लिए एक शांत वातावरण प्रदान करता है। इतिहास प्रेमियों के लिए, रीवा किले की यात्रा अवश्य करनी चाहिए। यह प्राचीन किला बीते युग की वास्तुकला की प्रतिभा को प्रदर्शित करता है और शहर का मनोरम दृश्य प्रदान करता है। आस-पास के संग्रहालयों को देखना न भूलें, जिनमें कलाकृतियों और अवशेषों का विशाल संग्रह है।

पुरातत्व से जुड़ी हुई कलाकृति से भरपूर मध्य प्रदेश के जिला होशंगाबाद में मौजूद हैं, देखने लायक सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान

स्थानीय व्यंजनों का स्वाद चखे बिना नर्मदापुरम की कोई भी यात्रा पूरी नहीं होती। यह शहर पोहा, जलेबी और भुट्टे की कीस सहित अपने स्वादिष्ट स्ट्रीट फूड के लिए जाना जाता है। पारंपरिक थाली को आज़माने का अवसर न चूकें, जो विभिन्न प्रकार के क्षेत्रीय व्यंजन पेश करती है। तो, चाहे आप प्रकृति प्रेमी हों, इतिहास प्रेमी हों, या खाने के शौकीन हों, नर्मदापुरम में हर किसी के लिए कुछ न कुछ है। इस मनमोहक शहर की अपनी यात्रा की योजना बनाएं और ऐसी यादें बनाएं जो जीवन भर याद रहेंगी।

नर्मदापुरम अपने स्वादिष्ट स्ट्रीट फूड, जैसे प्रसिद्ध “चाट” और “पानी पुरी” के लिए जाना जाता है। यह शहर अपनी पारंपरिक मिठाइयों जैसे “लड्डू” और “जलेबी” के लिए भी जाना जाता है। स्थानीय व्यंजन विभिन्न स्वादों और मसालों का मिश्रण है, और शहर में आने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए इसे अवश्य आजमाना चाहिए। नर्मदापुरम एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है और कई ऐतिहासिक और धार्मिक स्थलों का घर है। कुछ लोकप्रिय आकर्षणों में होशंगाबाद विज्ञान केंद्र, सेठानी घाट, राम मंदिर और चोरल बांध शामिल हैं। यह शहर अपने खूबसूरत झरनों के लिए भी जाना जाता है, जैसे कि बी फॉल्स, जो पास के शहर पचमढ़ी में स्थित है।

माँ नर्मदा उद्गम स्थल अमरकंटक यात्रा

नर्मदापुरम को हिंदुओं के लिए एक पवित्र शहर माना जाता है, क्योंकि यह नर्मदा नदी के तट पर स्थित है, जो भारत की सबसे पवित्र नदियों में से एक है। यह शहर कई मंदिरों का घर है, जैसे होशंगाबाद गणेश मंदिर, जिसे 500 साल से अधिक पुराना माना जाता है। शहर में सलकनपुर मंदिर भी है, जो एक पहाड़ी की चोटी पर स्थित है और देवी दुर्गा को समर्पित है। नर्मदापुरम घूमने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च के बीच होता है जब मौसम खुशनुमा और ठंडा होता है। इस समय के दौरान तापमान 15 डिग्री सेल्सियस से 25 डिग्री सेल्सियस के बीच रहता है, जो इसे दर्शनीय स्थलों की यात्रा और बाहरी गतिविधियों के लिए एक आदर्श समय बनाता है।

नर्मदापुरम सड़क मार्ग से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है और भोपाल और जबलपुर जैसे आसपास के शहरों से आसानी से पहुँचा जा सकता है। निकटतम हवाई अड्डा भोपाल में है, जो लगभग 80 किमी दूर है, और निकटतम रेलवे स्टेशन होशंगाबाद में है, जो भारत के प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान, निकटवर्ती बोरी और पचमढ़ी वन्यजीव अभयारण्यों को नही देखें।

Jatashankar Temple

जटाशंकर मंदिर भारत के मध्य प्रदेश के नर्मदापुरम में एक हिंदू मंदिर और प्राकृतिक गुफा है। यह पचमढ़ी के उत्तर में एक गहरी घाटी में स्थित है, जिसमें गुफा के ऊपर विशाल चट्टानें और स्टैलेग्माइट्स हैं जिन्हें प्राकृतिक रूप से निर्मित लिंग माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि यह मंदिर 5,000 साल से अधिक पुराना है और इसका निर्माण गुप्त काल के दौरान किया गया था। यह वह स्थान भी माना जाता है जहां भगवान शिव ने अपना लौकिक तांडव नृत्य किया था।

मंदिर के अंदर भगवान शिव की मुख्य मूर्ति काले संगमरमर से बनी है। गुफा का नाम इसके अंदर प्राकृतिक रूप से बने शिवलिंग (जटा शंकर) के नाम पर रखा गया है, और यह तीर्थयात्रियों और पर्यटकों के लिए एक लोकप्रिय गंतव्य है। मंदिर हर दिन सुबह 9 बजे से शाम 7 बजे तक खुला रहता है।

Dhoopgarh

धूपगढ़ भारत के मध्य प्रदेश की महादेव पहाड़ियों में 1,352 मीटर ऊँचा पर्वत है। यह सतपुड़ा रेंज का हिस्सा है और इस क्षेत्र का सबसे ऊंचा स्थान है। पहाड़ी की चोटी सूर्यास्त देखने के लिए एक लोकप्रिय स्थान है। धूपगढ़ होशंगाबाद जिले के पचमढ़ी में स्थित है। धूपगढ़ में एक सुव्यवस्थित संग्रहालय है। कुछ लोग कहते हैं कि यह घूमने के लिए एक बेहतरीन जगह है और इस क्षेत्र में घूमने के बाद अच्छा महसूस होता है। हालाँकि, सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान क्षेत्र में बाघ के कारण सूर्योदय का दौरा वर्जित है।

Bee Falls

बी फॉल्स भारत के मध्य प्रदेश के पचमढ़ी हिल स्टेशन में एक लोकप्रिय झरना है। यह बैतूल जिले के ऊपर इटारसी में स्थित है, और पचमढ़ी में सबसे लोकप्रिय झरना माना जाता है। झरना उत्तर-पश्चिम में एक टेढ़ी-मेढ़ी चट्टान के ऊपर से गिरता है।

Handi Khoh

हांडी खोह भारत के मध्य प्रदेश के पचमढ़ी में एक खड्ड है जिसे सुसाइड पॉइंट के नाम से भी जाना जाता है। यह 100 मीटर गहरी घाटी के किनारे पर स्थित है, और दूर से चौरागढ़ का दृश्य प्रस्तुत करता है। यह घाटी घने जंगलों से घिरी हुई है और इसमें 300 फुट ऊंची चट्टान है जो घाटी में गिरती है। कुछ लोग कहते हैं कि कण्ठ में “अविश्वसनीय दृश्य” और “प्रागैतिहासिक गुफाएँ” हैं।

Chauragarh Peak

चौरागढ़ चोटी 1308 मीटर की ऊंचाई के साथ भारत के मध्य प्रदेश की तीसरी सबसे ऊंची चोटी है। यह सतपुड़ा पर्वतमाला की दूसरी सबसे ऊंची चोटी है, और पचमढ़ी जिले में स्थित है। शिखर के शीर्ष पर एक बड़ा शिव मंदिर है जो शिवरात्रि मेले के दौरान कई तीर्थयात्रियों को आकर्षित करता है। महादेव गुफा से चौरागढ़ चोटी तक की पैदल यात्रा लगभग पांच घंटे लंबी है, जिसमें हर तरफ 3.5 किलोमीटर की दूरी है और चढ़ने और उतरने के लिए 1365 सीढ़ियां चढ़नी पड़ती हैं। कुछ लोग घूमने-फिरने के लिए जिप्सी किराये पर लेने की सलाह देते हैं, क्योंकि होटल कर्मचारी मदद कर सकते हैं। आप जिप्सी ड्राइवरों के साथ सीधे कीमतों पर बातचीत भी कर सकते हैं, जो विभिन्न बिंदुओं के लिए पैकेज पेश करते हैं।

Reechgarh

Pandav Caves

Duchess Falls

Mahadeo Temple

Bade Mahadev

Tawa Dam

Apsara Vihar

Rajendragiri Sunset Point

Pachmarhi Catholic Church

The Bori-Saptura Tiger Reserve

Chhota Mahadeo

Bison Lodge Museum

Mahadeo Hill

The Gypsy Adventures

Dwarkadessh Mandir

Christ Church

Bori Wildlife Sanctuary

Rajat Prapat waterfall

Priyadarshini Point (Forsyth Point)

Chauragarh Temple

Pachmarhi Rock Art

Sethani Ghat

Jamuna Prapat Waterfall

Vanashree Vihar

Irene Pool

नर्मदापुरम एक सुंदर शहर है जो इतिहास, संस्कृति और आध्यात्मिकता का एक अनूठा मिश्रण प्रस्तुत करता है। शहर की प्राकृतिक सुंदरता और धार्मिक महत्व मध्य प्रदेश की यात्रा करने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए इसे अवश्य देखने योग्य स्थान बनाते हैं। नर्मदापुरम की अपनी यात्रा की योजना बनाएं और इस खूबसूरत शहर के जादू का अनुभव करें।

error: Content is protected !!
Scroll to Top
Andaman Honeymoon Trip : अंडमान-निकोबार द्वीप के समुद्री तट Andaman Islands : घूमने का खास आनंद ले Andaman Vs Maldives : मालदीव से कितना सुंदर है अंडमान-निकोबार Andaman & Nicobar Travel Guide : पानी की लहरों का मजेदार सफ़र Andaman and Nicobar Islands Trip : मालदीव से भी ज्यादा खूबसूरत है अंडमान-निकोबार