List of Wildlife Sanctuaries in Mizoram

Rate this post

प्रकृति की सुंदरता वास्तव में मनमोहक है और भारत के उत्तरपूर्वी हिस्से में बसा मिजोरम इस तथ्य का प्रमाण है। यह मनमोहक राज्य अपने विविध पारिस्थितिकी तंत्र और जीवंत वन्यजीव अभयारण्यों के लिए प्रसिद्ध है जो क्षेत्र की समृद्ध जैव विविधता की झलक पेश करते हैं। इस लेख में, हम आपको मिजोरम के कुछ सबसे मनोरम वन्यजीव अभयारण्यों की यात्रा पर ले जाएंगे, जहां प्रकृति फलती-फूलती है।

  1. Dampa Tiger Reserve Mizoram
  2. Khawnglung Wildlife Sanctuary Mizoram
  3. Lengteng Wildlife Sanctuary Mizoram
  4. Ngengpui Wildlife Sanctuary Mizoram
  5. Pualreng Wildlife Sanctuary Mizoram
  6. Tawi Wildlife Sanctuary Mizoram
  7. Thorangtlang Wildlife Sanctuary Mizoram
  8. Tokalo Wildlife Sanctuary Mizoram

मिजोरम, जिसे “पहाड़ी लोगों की भूमि” के रूप में जाना जाता है, वन्यजीव अभयारण्यों की एक उल्लेखनीय श्रृंखला का दावा करता है जो वनस्पतियों और जीवों की अनगिनत प्रजातियों के लिए स्वर्ग के रूप में काम करता है। ये अभयारण्य न केवल संरक्षण प्रयासों के लिए महत्वपूर्ण हैं बल्कि प्रकृति प्रेमियों और वन्यजीव फोटोग्राफरों के लिए स्वर्ग भी प्रदान करते हैं।

  1. डम्पा वन्यजीव अभयारण्य
    मिजोरम के पश्चिमी भाग में स्थित, डम्पा वन्यजीव अभयारण्य प्रकृति की भव्यता का एक प्रमुख उदाहरण है। यह अभयारण्य बाघ, हाथी और हूलॉक गिब्बन सहित विभिन्न प्रकार के वन्यजीवों का घर है। इसकी हरी-भरी हरियाली और शांत वातावरण इसे उन लोगों के लिए अवश्य देखने लायक बनाता है जो जंगल के साथ प्रामाणिक मुठभेड़ की तलाश में हैं।
  2. नगेंगपुई वन्यजीव अभयारण्य
    मिजोरम के दक्षिणपूर्वी भाग में स्थित, नगेंगपुई वन्यजीव अभयारण्य एक छिपा हुआ रत्न है। इसकी घुमावदार पहाड़ियाँ और घने जंगल पक्षियों, सरीसृपों और स्तनधारियों की विभिन्न प्रजातियों के लिए एक सुरक्षित आश्रय प्रदान करते हैं। मनमोहक परिदृश्य और दुर्लभ प्रजातियों को देखने का अवसर इसे शौकीन पक्षी प्रेमियों के लिए स्वर्ग बनाता है।
  3. तवी वन्यजीव अभयारण्य
    संरक्षण के प्रति उत्साही लोगों के लिए, तवी वन्यजीव अभयारण्य एक अनूठा अनुभव प्रदान करता है। यह अभयारण्य गंभीर रूप से लुप्तप्राय प्रजाति सीरो के संरक्षण के लिए समर्पित है। पर्यटक संरक्षण प्रयासों के बारे में जान सकते हैं और सीरो के प्राकृतिक आवास को देख सकते हैं।
  4. थोरांगटलांग वन्यजीव अभयारण्य
    प्रकृति प्रेमी थोरांगटलांग वन्यजीव अभयारण्य की सुंदरता से मंत्रमुग्ध हो जाएंगे। अभयारण्य की वनस्पतियों और जीवों की विविध श्रृंखला, इसके लुभावने परिदृश्यों के साथ मिलकर, प्रत्येक आगंतुक के लिए एक मंत्रमुग्ध कर देने वाला अनुभव पैदा करती है।
  5. लेंगटेंग वन्यजीव अभयारण्य
    लेंगटेंग वन्यजीव अभयारण्य मिजोरम की प्राकृतिक विरासत को संरक्षित करने की प्रतिबद्धता का एक प्रमाण है। यह लुप्तप्राय सूर्य भालू सहित विभिन्न प्रजातियों के लिए एक अभयारण्य प्रदान करता है। इस अभयारण्य की खोज प्रकृति से गहन स्तर पर जुड़ने का एक अवसर है।
  6. पुआलरेंग वन्यजीव अभयारण्य
    मिजोरम के मध्य में स्थित, पुआलरेंग वन्यजीव अभयारण्य जैव विविधता का स्वर्ग है। इसके विविध पारिस्थितिक तंत्र भौंकने वाले हिरण, सांभर हिरण और विभिन्न पक्षी प्रजातियों जैसी प्रजातियों का घर हैं। क्षेत्र के पारिस्थितिक संतुलन को बनाए रखने में अभयारण्य के महत्व को कम करके आंका नहीं जा सकता है।
  7. ख्वांगलुंग वन्यजीव अभयारण्य
    ख्वांगलुंग वन्यजीव अभयारण्य अपने प्राकृतिक खजाने को संरक्षित करने के लिए मिजोरम के समर्पण का एक प्रमाण है। अपने विशाल वृक्षों से लेकर जीवंत वृक्षों तक, यह अभयारण्य आम और दुर्लभ दोनों प्रजातियों का आश्रय स्थल है, जो इसे पर्यावरण-पर्यटन के लिए आकर्षण का केंद्र बनाता है।
  8. लेंगटेंग वन्यजीव अभयारण्य
    इस अभयारण्य की अनूठी विशेषता इसकी ऊंचाई है, जो वन्यजीवों को एक अलग दृष्टिकोण से देखने का मौका देती है। लेंगटेंग वन्यजीव अभयारण्य जैव विविधता का खजाना है, जो आगंतुकों को निर्देशित पदयात्रा और गहन अनुभवों के माध्यम से प्रकृति से जुड़ने के लिए आमंत्रित करता है।
  9. सिनेमोन वन्यजीव अभयारण्य
    सिनेमोन वन्यजीव अभयारण्य पक्षी प्रेमियों के लिए एक उपहार है। इसके घने जंगल और शांत वातावरण अनेक पक्षी प्रजातियों के लिए आदर्श आवास प्रदान करते हैं। रंगीन किंगफिशर से लेकर राजसी ईगल तक, अभयारण्य पक्षी देखने वालों के लिए एक स्वर्ग है।
  10. तुआलचांग वन्यजीव अभयारण्य
    तुआलचांग वन्यजीव अभयारण्य मिज़ोरम के संरक्षण के प्रति समर्पण का एक प्रमाण है। अपनी हरी-भरी घाटियों और प्राचीन जलधाराओं के साथ, यह अभयारण्य विभिन्न प्रजातियों के लिए एक शांत वातावरण प्रदान करता है, जो इसे भविष्य की पीढ़ियों के लिए एक मूल्यवान संपत्ति बनाता है।
  11. पुआलरेंग वन्यजीव अभयारण्य
    पुआलरेंग वन्यजीव अभयारण्य की रणनीतिक स्थिति इसे संरक्षण प्रयासों के लिए एक महत्वपूर्ण क्षेत्र बनाती है। यह स्लो लोरिस और लेपर्ड कैट जैसे जानवरों की शरणस्थली है। इस अभयारण्य की खोज वन्यजीव संरक्षण के प्रति मिज़ोरम की प्रतिबद्धता का समर्थन करने और उसकी सराहना करने का एक मौका है।
  12. ख्वांगलुंग वन्यजीव अभयारण्य
    ख्वांगलुंग वन्यजीव अभयारण्य के घने जंगल और विविध वनस्पतियां और जीव-जंतु आगंतुकों के लिए एक अद्भुत अनुभव पैदा करते हैं। इसका अनूठा आकर्षण इसके अछूते परिदृश्यों में निहित है, जो एक ऐसी दुनिया की झलक पेश करता है जहां प्रकृति सर्वोच्च है।
  13. मुरलेन राष्ट्रीय उद्यान
    मुरलेन राष्ट्रीय उद्यान मिजोरम के वन्यजीव संरक्षण प्रयासों का एक मुकुट है। इसमें प्रजातियों की एक समृद्ध विविधता मौजूद है, जिनमें मायावी हिमालयी सीरो और क्लाउडेड तेंदुआ शामिल हैं। पार्क की प्राकृतिक सुंदरता और दुर्लभ निवासी इसे पर्यावरण-उत्साही लोगों के लिए अवश्य देखने लायक बनाते हैं।
  14. मुराईचिप वन्यजीव अभयारण्य
    मुराईचिप वन्यजीव अभयारण्य प्रकृति और संस्कृति के बीच सामंजस्य का एक प्रमाण है। यह न केवल वन्य जीवन के लिए एक अभयारण्य है बल्कि सांस्कृतिक महत्व का भी स्थान है। अभयारण्य का शांत वातावरण और ऐतिहासिक महत्व इसे एक अद्वितीय गंतव्य बनाता है।

निष्कर्ष
मिजोरम के वन्यजीव अभयारण्य अपनी प्राकृतिक विरासत को संरक्षित करने के लिए राज्य की प्रतिबद्धता का प्रतिबिंब हैं। जैव विविधता के ये आश्रय स्थल प्रकृति से जुड़ने और उसके वैभव की सराहना करने का एक अनूठा अवसर प्रदान करते हैं। चाहे आप उत्साही प्रकृति प्रेमी हों या जिज्ञासु यात्री, मिजोरम के वन्यजीव अभयारण्यों की यात्रा एक अविस्मरणीय अनुभव का वादा करती है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (एफएक्यू)
क्या ये अभयारण्य साल भर जनता के लिए खुले हैं?
हाँ, अधिकांश अभयारण्य साल भर खुले रहते हैं, लेकिन सलाह दी जाती है कि प्रत्येक अभयारण्य के लिए विशिष्ट भ्रमण मौसम की जाँच कर लें।

क्या इन अभयारण्यों में निर्देशित पर्यटन उपलब्ध हैं?
कई अभयारण्य आपके अनुभव और समझ को बढ़ाने के लिए जानकार विशेषज्ञों के नेतृत्व में निर्देशित पर्यटन की पेशकश करते हैं।

पक्षी देखने के लिए जाने का सबसे अच्छा समय क्या है?
पक्षियों को देखने का सबसे अच्छा समय आमतौर पर सुबह का समय होता है जब पक्षी सबसे अधिक सक्रिय होते हैं।

क्या इन अभयारण्यों के पास आवास उपलब्ध हैं?
हां, इनमें से अधिकांश अभयारण्यों के नजदीक ही बजट से लेकर लक्जरी विकल्पों तक आवास उपलब्ध हैं।

मैं इन अभयारण्यों के संरक्षण प्रयासों में कैसे योगदान दे सकता हूँ?
आप अभयारण्य के नियमों का सम्मान करके, स्थानीय संरक्षण पहल का समर्थन करके और वन्यजीव संरक्षण के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाकर योगदान कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *


The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

error: Content is protected !!
Scroll to Top
Andaman Honeymoon Trip : अंडमान-निकोबार द्वीप के समुद्री तट Andaman Islands : घूमने का खास आनंद ले Andaman Vs Maldives : मालदीव से कितना सुंदर है अंडमान-निकोबार Andaman & Nicobar Travel Guide : पानी की लहरों का मजेदार सफ़र Andaman and Nicobar Islands Trip : मालदीव से भी ज्यादा खूबसूरत है अंडमान-निकोबार