Wildlife Sanctuaries of India

काली टाइगर रिजर्व दुर्लभ ब्लैक पैंथर्स का घर है | Dandeli Anshi National Park & Tiger Reserve | Kali Tiger Reserve Karnataka

Rate this post

काली टाइगर रिज़र्व, जिसे पुराने नाम डंडेली-अंशी टाइगर रिज़र्व से भी पहचाना जाता है। यह एक राष्ट्रीय उद्यान भी है, जो भारत के कर्नाटक राज्य के उत्तर कन्नड़ ज़िले जिसे उत्तर कैनरा भी कहते हैं, यह गोवा राज्य की सीमा पर स्थित है।

शायद आपने जंगलबुक पढ़ी हो या जंगलबुक मूवी देखी हो उसमें आपकों मोगलीं, बल्लू , शेरखान और बगीरा जो ब्लैक पैंथर्स हैं इसी जंगल पर यह कहानी लिखी गयी हैं। अगर आपकों इससे पहले नहीं पता था तो कोई बात नहीं पर अब जरुर इस मूवी को देखना।

काली टाइगर रिज़र्व में बंगाल टाइगर, काले तेंदुए, बाइसन, जंगली कुत्ता, सांभर, चित्तीदार हिरण, स्लॉथ भालू, जंगली सूअर,लंगूर, बोनट मकाक, सरीसृप की अनेक किस्में और हॉर्नबिल की सभी चार प्रजातियों के पक्षी और भारतीय हाथियों का निवास स्थान के अलावा विशिष्ट पशुवर्ग भी मौजूद है।

यह हलियाल और कारवार वन क्षेत्र के बीचों-बीच स्थित है। काली टाइगर रिजर्व के अंदर इस क्षेत्र के दो महत्वपूर्ण संरक्षित क्षेत्र शामिल हैं। दांडेली वन्यजीव अभयारण्य जिसका क्षेत्रफल 475.018 वर्गकिमी और अंशी राष्ट्रीय उद्यान का क्षेत्रफल 339.866 वर्गकिमी हैं।

Sri Venkateswara National Park Andhra Pradesh
काली टाइगर रिजर्व भारतीय हाथियों का निवास स्थान

काली और डंडेली ये दोनों संरक्षित क्षेत्र विल्कुल एक-दूसरे से सटे हुए हैं। यह क्षेत्र जैविक रूप से अति संवेदनशील पश्चिमी घाट में स्थित संरक्षित क्षेत्र का एक मार्ग बनाते हैं।
दांदेली और अंशी वन्यजीव क्षेत्र में अंशी, कुलगी, कुम्बरवाड़ा ,फांसोली, गुंड एवं कैस्टलरॉक वन्यजीव रेंज जैसी लगभग छह विभिन्न श्रेणियां शामिल हैं। काली टाइगर रिज़र्व के वन नम पर्णपाती और अर्ध-सदाबहार वन हैं, जिसमें पश्चिमी क्षेत्रीय भागों के साथ-साथ गहरी घाटियों में सदाबहार वन मौजूद हैं।

काली टाइगर रिजर्व में प्रतिदिन सुबह और शाम में दो बार ही जंगल सफारी का आयोजन किया जाता है- सुबह 6 बजे से लेकर सुबह 8 बजे तक और शाम 4 बजे से शाम 6 बजे तक।
आपकों फांसोली में रिपोर्टिंग प्रस्थान समय से कम से कम 15 मिनट पहले रिपोर्ट करने की सलाह दी जाती है। फांसोली एकमात्र रिपोर्टिंग पॉइंट है, वर्तमान समय में सफ़ारी शुल्क 450 रूपए प्रति व्यक्ति है।

काली टाइगर रिजर्व के पास देखने लायक स्थान

उलावी की गुफाएँ, चेन्नाबासवेश्वर मंदिर और अन्य कई गुफाएँ, अकाला गवी, विभूति कनजा, अक्का नागम्मा गुफा, रुद्राक्षी मंतपा प्रमुख हैं। साथ ही सिनथेरी चट्टानों के बच्चों-बीच तेज तेज गति से बहने वाली नदी वहुत ही सुन्दर रैपिड बनाती है। काली नदी पर बना कदरा बांध देखने लायक हैं, साथ ही सुपा बांध जो कारवार-दांडेली रोड पर स्थित बांध, लोकप्रिय शिरवे गुड्डा ट्रेकिंग भी हैं ।

काली टाइगर रिज़र्व में वन सफारी:

काली टाइगर रिज़र्व में जंगल जीप सफारी डंडेली से उपलब्ध है। जंगल लॉजेज एंड रिसॉर्ट्स लिमिटेड द्वारा चलाए जा रहे काली एडवेंचर कैंप के बारे में आप वहीँ जाकर पता करें।

काली टाइगर रिज़र्व में बर्ड-वॉचिंग:

Hornbills Birds
हॉर्नबिल विलुप्तप्राय दुर्लभ पक्षियों का जोड़ा

हॉर्नबिल जैसे अन्य विलुप्तप्राय दुर्लभ पक्षियों को देखने की उच्च संभावना होती हैं।

काली टाइगर रिज़र्व में साहसिक खेल:

काली नदी में व्हाइट वाटर राफ्टिंग इत्यादि जल खेलों का आयोजन किया जाता है, जिसका आयोजन जंगल लॉज एंड रिसॉर्ट्स द्वारा किया जाता है।

काली टाइगर रिज़र्व FAQ

काली टाइगर रिज़र्व में घूमने का सबसे अच्छा मौसम ?

मार्च, अप्रैल,मई काली टाइगर रिज़र्व में घूमने का सबसे अच्छा मौसम है।

काली टाइगर रिज़र्व किस लिए प्रसिद्ध ?

पार्क अन्य विशिष्ट जीवों के बीच बंगाल टाइगर्स, ब्लैक पैंथर्स और भारतीय हाथियों का निवास स्थान के लिए प्रसिद्ध है।

काली टाइगर रिज़र्व के पास रुकने और ठहरने के स्थान?

दांदेली और उसके आसपास कई निजी होमस्टे और रिसॉर्ट उपलब्ध हैं।

काली टाइगर रिज़र्व पहुँचने के लिए मार्ग ?

1. हुबली घरेलू हवाई अड्डा (HBX) निकटतम हवाई अड्डा से 110 किलोमीटर) है।
2. हुबली रेलवे स्टेशन निकटतम रेलवे स्टेशन से 112 किलोमीटर है।
3. बेंगलुरु से काली टाइगर रिजर्व से 500 किलोमीटर है।

काली टाइगर रिज़र्व निकटवर्ती स्थान ?

1. सथोडी फॉल्स से 87 कि.मी.की दुरी ।
2. सिंथेरी रॉक्स से 36 कि.मी. की दुरी ।
3. कोडसल्ली बांध से 68 कि.मी. की दुरी।






error: Content is protected !!
Scroll to Top
Andaman Honeymoon Trip : अंडमान-निकोबार द्वीप के समुद्री तट Andaman Islands : घूमने का खास आनंद ले Andaman Vs Maldives : मालदीव से कितना सुंदर है अंडमान-निकोबार Andaman & Nicobar Travel Guide : पानी की लहरों का मजेदार सफ़र Andaman and Nicobar Islands Trip : मालदीव से भी ज्यादा खूबसूरत है अंडमान-निकोबार